Connect with us

Uncategorised

चंद्राधि योग (Chandradhi Yoga) in Astrology

Published

on

चंद्रादि योग(Chandradhi Yoga)

चन्द्र के द्वारा कई शुभ योग बनते है, जैसे की चंद्राधि योग, अनफा योग, दुर्धरा योग, और सुनफा योग. आज के इस आर्टिकल में हम आपके लिए चंद्राधि योग के बारे में बात करेंगे|

चंद्रादि योग कैसे बनता है?

चंद्राधी योग में चन्द्र लग्न, गुरु, शुक्र, और बुध का महत्व है| जन्म पत्रिका में जब गुरु, शुक्र, और बुध चन्द्र से 6, 7 और 8 वें भाव में हो तब चंद्रादि योग बनाते है|

चंद्रादि योग का फल (Chandradhi yoga Result)

चंद्रधि योग जन्म पत्रिका में होने से जातक विनम्र और भरोसेमंद होता |
जीवन में धन और मान सन्मान की प्राप्ति होती है|
जातक चतुर और अपने शत्रु पर विजय प्राप्त करने वाला है|
इसे उच्च श्रेणी के लाभदायक योगो में गिना जाता है|

चंद्राधि योग की Strength

चंद्राधि योग की strength के लिए चन्द्र, गुरु, शुक्र, और बुध का मजबूत होना आवश्यक है|

चंद्राधि योग Example

Bill Gates Birth Charts: Chandradhi yoga in Hindi
Bill Gates Birth Charts: Chandradhi yoga

Image में दिख रही जन्म पत्रिका बिल गेट्स की है| उनकी जन्म पत्रिका में हम देख सकते है की की चन्द्र से छट्ठे भाव में गुरु, सातवे भाव में बुध और आठवे भाव में शुक्र स्थित होकर chandradhi Yoga योग का निर्माण करते है| हम सब जानते ही है उनके जीवन में in योग ने क्या फल दिया है| (उनकी जन्म पत्रिका में चंद्राधि योग के अलावा और भी अच्छे योग है जिसे हम अलग से आर्टिकल शेयर करेंगे)

बिल गेट्स की जन्म पत्रिका में गुरु चन्द्र से छट्ठे भाव में मित्र क्षेत्र में है जब की बुध उच्च का होकर केंद्र और शुक्र स्वराशी का होकर पंचम भाव में स्थित है| जिसे उनकी जन्म पत्रिका में चंद्राधि योग काफी महत्व का है|

हमें आशा है की आपको chandradhi Yoga in hindi की अच्छी इनफार्मेशन मिली होंगी अगर आप ज्योतिष सम्बंधित कोई भी प्रश्न पूछना चाहते है तो राईट साइड के निचे के कार्नर पे दिए गए बटन पर क्लिक कर हमसे संपर्क कर सकते है| यह एकदम फ्री है|

Facebook

Advertisement

Trending