Connect with us

Vastu Tips

10 Best Tips for vastu shastra for home in Hindi

Published

on

Best Tips for vastu shastra for home in hindi

वास्तु शास्त्र हमारे ऋषिओं ने हमें एक सुखी जीवन जीने के लिए दिया है| वास्तु शास्त्र की टिप्स(Tips for vastu shastra for home in Hindi) के माध्यम से हम हमारे जीवन को सुखी एवम आनंदयुक्त बना सकते है| हमारे जीवन में ग्रहों का जितना प्रभाव होता है उतना ही वास्तु शास्त्र का भी प्रभाव होता है| इसी लिए एक सुखी जीवन को जीने के लिए वास्तुशास्त्र के आधार पर घर का सही होना आवश्यक है|

आज के इस लेख के माध्यम से हम आपसे वास्तुशास्त्र की दस ऐसी टिप्स देंगे जो आपको सफलता प्रदान करे, और जीवन को दुखो से मुक्त करे|

10 Best Tips for vastu shastra

  1. जब भी घर बनाना हो तो ऐसी जगह पर बनाए जो जमीन चोकोर हो या गोमुखाकार हो|
  2. मकान का मुख्य द्वार आपकी जन्म पत्रिका के ग्रह के अनुरूप दिशा में हो|
  3. घर में प्रवेश करने पर शुभ चिह्न या मूर्ति प्रस्थापित हो|
  4. घर के पूर्व दिशा में एक पानी का कलश हो|
  5. घरमें अच्छे से हवा और प्रकाश के आने जाने के लिए अनुकूल हो|
  6. बैठक खंड में पानी सम्बंधित चीज जैसे की फिशपॉट हो|
  7. शयनकक्ष में धार्मिक वस्तु एवम मंदिर को नहीं रखना चाहिए|
  8. घर में पानी के नल इत्यादि सही होने चाहिए लीकेज मुक्त होने चाहिए|
  9. घर में एक तुलसी का पौधा होना चाहिए
  10. मंदिर की दिशा घर में उत्तर पूर्व दिशा में होनी चाहिए|

How This Tips works for us according to vastu shastra

जब भी घर बनाना हो तो ऐसी जगह पर बनाए जो जमीन चोकोर हो या गोमुखाकार हो| हमारे शास्त्रों में घर बनाने के लिए दो प्रकार की जमीन सबसे उत्तम कही गयी है|

एक मान्यता है की दक्षिण दिशा की और मकान का मुख्यद्वार होना अशुभ होता है|लेकिन वास्तुशास्त्र में ऐसा नहीं है| मकान का मुख्य द्वार आपकी जन्म पत्रिका के ग्रह के अनुरूप दिशा में होन चाहिए| हम आपके लिए बहोत ही जल्द इस पर एक लेख लेकर आयेंगे जिससे आप को यह समजने में आसानी हो की आपके घर का मुख्यद्वार किस दिशा में होना चाहिए|

घर में प्रवेश करने पर शुभ चिह्न या मूर्ति होना एक शुभ चिह्न माना जाता है| हमारे शास्त्रों में ॐ या स्वस्तिक को एक अच्छा चिह्न माना जाता है| ऐसे अगर घरके प्रवेश द्वार पर ही इस तरह के चिह्न या भगवान् गणेश मूर्ती हो तो घर में लक्ष्मी का वास होता है| और घर की फाइनेंस सम्बंधित परेशानी दूर होती है|

घर के लिए वास्तुशास्त्र की टिप्स

जिस भी घर में हवा और प्रकश अच्छे से आते हो उस घर में स्वस्थ सम्बंधित परेशानी काफी कम होती है| इससे घरका वातावरण शुद्ध रहता है और मन आनंदित रहता है|

बैठक खंड में वार्तालाप अधिक होता है| और ऐसी ही जगह से कभी कभी घरमे लड़ाईयां शुरू होती है| चंद्र मन का कारक है| मन शांत होने पर अधिकतर समस्या का समाधान निकाला जा सकता है| पानी सम्बंधित चीज जैसे की फिशपॉट घरमे होने पर मन को शांति की अनुभूति होती है|

शयनकक्ष में भगवान् का मंदिर रखना वर्जित माना जाता है| शयनकक्ष को कभी काम सुख की प्राप्ति के लिए भी उपयोग में लिया जाता है| इस वजह से यहाँ भगवान् का स्थान होना सर्वथा अनुचित है|

Vastu Tips in Hindi

घर में नल इत्यादि पानी का सोर्स अच्छा होना चाहिए| कई घरो में ऐसा देखा गया है की पानी का नल या टंकी लीकेज होती है| पानी को चन्द्र का कारक माना गया है| ऐसे में लीकेज नल या टंकी चन्द्रमा को खराब करती है| इससे मन खराब होता है| मन के ख़राब होने से घरमे लड़ाईयां और कलेश बढ़ते है|

उत्तर पूर्व दिशा को इशान कोण भी कहा जाता है| जहा पर देवो का वास होता है| घर में इस दिशा में मंदिर रखने से घरमे अच्छा प्रभाव पड़ता है और एक पॉजिटिव उर्जा का संचय होता है| भगवान् की कृपा भी जल्द प्राप्त होती है|

निषकर्ष(Tips for vastu shastra for home in Hindi)

यहाँ पर हमने आपसे 10 Best Tips for vastu shastra for home in Hindi शेयर की है| यहाँ हमने आसान भाषा में इसको अच्छे से समजाय भी है की यह किस तरह से आपके जीवन को प्रभावित करता है| यह टिप्स आप अपनाने से जीवन में अच्छे अनुभव प्राप्त करेंगे|

अगर आपको हमारा यह लेख पसंद आया हो तो इसे अधिक से अधिक लोगो के साथ शेयर करे धन्यवाद|

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Panchang

Categories

Facebook

Advertisement

Trending